uptak

UP Today News Amroha: अमरोहा न्यूज, पढें आज की ताजा खबर

UP Today News

UP Today News Amroha: इलाज के दौरान महिला की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग सतर्क किया हसन नर्सिंग होम सील

UP Today News Amroha: हसनपुर के मकनपुर शुमाली निवासी अनीता की इलाज के दौरान मौत होने के तीन दिन बाद होश आने पर हसन के नर्सिंग होम को स्वास्थ्य विभाग ने सील कर दिया था। नोडल अधिकारी ने कार्रवाई करते हुए कहा कि नर्सिंग होम का संचालक फरार है। उसके खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है।

Gajraula (Amroha): अधिकारी नोडल डॉ. विशाल त्रिवेदी और डॉ. शरत कुमार गुरुवार को हसन नर्सिंग होम, कुमराला चौकी और पक्के पुल के पास पहुंचे। उन्होंने बताया कि नर्सिंग होम का संचालक घटनास्थल पर नहीं मिला। यहां एक लड़की मिली। उससे संचालक के बारे में पूछा , लेकिन उसने कुछ नहीं कहा। इस दौरान सीएमओ कार्यालय में फोन कर नर्सिंग होम का रिकार्ड दिखाया गया।  इस दौरान पाया गया कि नर्सिंग होम सीएमओ कार्यालय में पंजीकृत नहीं है। वे अवैध रूप से काम कर रहे हैं।

क्योंकि नर्सिंग होम को सील कर दिया गया था। नोडल अधिकारी ने बताया कि सोमवार रात अवैध रूप से संचालित नर्सिंग होम में इलाज के दौरान एक महिला की मौत हो गई थी। मृतक के परिजनों ने काफी हंगामा किया था, लेकिन कोई शिकायत नहीं की थी। संचालक के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस में शिकायत की गई है।

UP Today News Amroha: सरकारी दफ्तरों में निजी वाहनों के व्यावसायिक उपयोग पर लगाया गया प्रतिबंध

UP Today News Amroha:  सरकारी कार्यालयों में निजी वाहनों के व्यावसायिक उपयोग की खबरों के बाद परिवहन आयुक्त ने ऐसे वाहनों के संचालन पर रोक लगा दी है। साथ ही अधिकारियों को निरीक्षण कर कार्रवाई करने को कहा है। अमरोहा निवासी सड़क सुरक्षा समिति के सदस्य अनिल कुमार जग्गा की शिकायत के बाद यह निर्देश दिए गए हैं।

अब जिन विभागों में निजी वाहनों को कमर्शियल वाहन बनाकर रखा गया था, वहां दंगे हो रहे हैं। आयुक्त ने यह भी स्पष्ट किया है कि यदि यह व्यक्तिगत उपयोग के लिए पंजीकृत है और व्यावसायिक रूप से उपयोग किया जाता है, तो इसके खिलाफ मोटर वाहन अधिनियम के तहत कार्रवाई करें।

Amroha News: निजी वाहनों को किराए पर लेने के लिए टैक्सी परमिट प्राप्त करना होगा, लेकिन जिले में कई वाहन बिना टैक्सी परमिट के चलते हैं। आम लोगों के साथ-साथ सरकारी अधिकारी भी इन निजी वाहनों का इस्तेमाल टैक्सी के रूप में कर रहे हैं। कई विभाग ऐसे हैं जहां निजी वाहनों का इस्तेमाल होता है। इन वाहनों की दर टैक्सी के आधार पर प्रदर्शित की जाती है, लेकिन कोई भी वाहन टैक्सी परमिट पर मान्य नहीं होता है।

दरअसल, सरकारी दफ्तरों में अधिकारियों के इस्तेमाल के लिए टैक्सी वाले वाहन ठेके पर काम करते हैं। नए वाहन कई विभागों में काम कर रहे हैं। इन वाहनों के मालिकों को प्रति किमी या मासिक किराया दिया जाता है। नियमों के मुताबिक इस काम के लिए सिर्फ टैक्सी परमिट वाली गाडिय़ों का ही इस्तेमाल किया जाना चाहिए, लेकिन कुछ दफ्तरों में इस नियम की अनदेखी की जा रही है।

सरकारी कार्यालयों में टैक्सी के रूप में निजी वाहनों के उपयोग से परिवहन विभाग को राजस्व की हानि होती है। लेकिन अधिकारियों की लापरवाही के चलते इन वाहन संचालकों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। कार्रवाई को रोकने के लिए स्टिंग को भी हटा दिया गया है। कुछ जगहों पर इन वाहनों का निजी काम में इस्तेमाल दिखाकर बिल पास कर दिया जाता है तो कुछ जगहों पर वाहन मालिकों से बिल लेकर टैक्सी का परमिट जमा कर दिया जाता है।

यह निजी वाहनों और टैक्सियों की पहचान है

टैक्सियों और निजी वाहनों की पहचान के लिए ट्रांसपोर्टरों ने दोनों की नंबर प्लेट का रंग अलग कर दिया है। निजी वाहनों में काले नंबर वाली सफेद प्लेट होती है, जबकि टैक्सियों में पीली प्लेट होती है।

महेश कुमार शर्मा, एआरटीओ

ऐसी शिकायतें सामने आई हैं कि सरकारी दफ्तरों में निजी नंबर के वाहनों का इस्तेमाल किया जा रहा है। अगर ऐसा होता है तो विभाग को राजस्व का नुकसान हो रहा है। इस लिहाज से परिवहन आयुक्त के निर्देश मिले हैं, जिन्होंने निजी वाहनों का व्यावसायिक उपयोग पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। मामला सामने आने के बाद उस पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

UP Today News Amroha: गंगा एक्सप्रेसवे के ठेकेदारों ने नंदी तीर्थ की जमीन की खुदाई की

UP Today News Amroha: जिले में गंगा एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य चल रहा है। सरकार ने संकेत दिया था कि जिलों में तालाबों और पोखरों से मिट्टी हटाकर सड़क निर्माण की जरूरतें पूरी की जाएंगी, लेकिन अमरोहा जिले में ऐसा नहीं हुआ. गंगा एक्सप्रेसवे के ठेकेदारों ने चंदनकोटा के गंगेश्वरी ब्लॉक गांव में नदी संरक्षण केंद्र के लिए साढ़े 300 बीघा चिह्नित घास के मैदानों का पता लगाया। पिछले एक हफ्ते से लगातार ग्राउंड लिफ्टिंग हो रही है।

Dhawarsi (Amroha): रहवासियों का यह भी आरोप है कि इस संबंध में कोई बोली नहीं लगाई गई है और न ही जमीन उठाने का आदेश दिया गया है। यह सब स्थानीय स्तर पर भाजपा पदाधिकारियों और नेताओं की मिलीभगत से हो रहा है। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत डीएम पोर्टल व मुख्यमंत्री से की है। चंदनकोटा गांव के राजस्व अभिलेखों में चरागाह संख्या 367 गाटा में दर्ज है। इस जमीन पर 60 लोगों ने लीज पर कब्जा कर रखा था। इसके खिलाफ सालों पहले समुदाय के लोगों ने नेशनल कोर्ट में जनहित याचिका पेश कर चारागाहों पर कब्जा करने की मांग की थी।

2019 में सुपीरियर कोर्ट के आदेश से कोषागार विभाग ने जमीन हड़प ली। आवारा पशुओं से किसानों की फसल को हुए नुकसान को देखते हुए जिला प्रशासन ने उक्त भूमि पर नंदी अभ्यारण्य केंद्र स्थापित करने का निर्णय लिया है। नंदी अभ्यारण्य केंद्र की स्थापना के लिए उक्त भूमि का समतलीकरण कार्य मनरेगा द्वारा कराया गया तथा चारों दिशाओं में 6 फुट गहरा गड्ढा खोद कर मिट्टी का तटबंध बनवाया गया।

वन विभाग की ओर से अमृत वन महोत्सव के तहत पशुओं को गर्मी से बचाने के लिए 5200 पौधे रोपित कर निःशुल्क उपलब्ध कराये गये. मनरेगा द्वारा ऐसे पौधे लगाने पर एक लाख 81 लाख रुपये का खर्च मनरेगा ने भी दिखाया।

सरकार द्वारा छोड़े गए पशुओं को संरक्षित करने के लिए उक्त नंदी अभयारण्य केंद्र का काम चल रहा था, लेकिन गंगा हाईवे के ठेकेदार ने खाली जमीन देख ली। ग्रामीणों का आरोप है कि तहसील स्तर के अधिकारियों और ग्राम प्रधान की मिलीभगत से 350 बीघा जमीन पर दो-तीन जेसीबी मशीनों से करीब 40 डंप ट्रक से कई दिनों तक 24 घंटे खनन कार्य कराया जाता है। ग्रामीणों ने मामले की शिकायत जिलाधिकारी से की तो जिलाधिकारी ने जिला खनन पदाधिकारी को मामले की जांच के आदेश दिए।

खनन अधिकारी ने मौके पर जाकर देखा तो खनन हो रहा था। जिसके बाद खनन अधिकारी ने अपनी रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंपने की बात कही है। खनन पदाधिकारी द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट पर तहसीलदार हसनपुर को कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है। व्हिसलब्लोअर संदीप कुमार का कहना है कि जिले के अधिकारियों ने खनन कार्य बंद नहीं किया है। जिसके बाद मामले की शिकायत मुख्यमंत्री के पोर्टल पर की गई है।

गंगा राजमार्ग के निर्माण में शामिल अधिकारी पंजीकृत कंपनी को मिट्टी भरने का ठेका देते हैं। कंपनी ठेकेदार भी मिट्टी की आपूर्ति के लिए जमीन का ठेका कहीं और ले लेता है। प्रशासन से अनुमति ली जाती है। लेकिन यहां नंदी तीर्थ केंद्र की जमीन का भूमि भराव नियमानुसार नहीं हो रहा है।

सरकार ने पंचायत गांव में स्थित तालाब, पोखर और नहर खोदकर मिट्टी उठाने से एक्सप्रेस-वे की जरूरतों को पूरा करने की अनुमति दे दी है। लेकिन चरागाह भूमि को मिट्टी के खनन से अलग रखा गया है। चंदनकोटा चारागाह भूमि उपजाऊ है। राजस्व विभाग द्वारा आक्रमण जारी करने से पहले यह भूमि खेती के अधीन थी। फसलों की सिंचाई के लिए तीन नलकूप लगाए गए हैं।

खनन अधिकारी ने क्या कहा? UP Today News

जिला खनन अधिकारी रंजना सिंह का कहना है कि जिलाधिकारी के आदेश पर मैंने खदान स्थल पर जाकर जांच की थी। विभाग ने चारागाहों में खनन की अनुमति नहीं दी है। मैंने अपनी रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेज दी है। जल्द बंद होगा खनन कार्य।

अशोक कुमार शर्मा, एसडीएम हसनपुर।

घास की जमीन और नंदी तीर्थ केंद्र की मिट्टी की खुदाई कर गंगा एक्सप्रेस-वे की जरूरतों को पूरा करने का सवाल ही नहीं है। पूरे मामले की जांच के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।

UP Today News Amroha: सड़क हादसे में हुई युवक की मौत, जा रहा था बड़े भाई की शादी के कार्ड बांटने 

UP Today News Amroha: कटाई का निवासी रितेश (25), जो अपने बड़े भाई की शादी के लिए कार्ड बांटने जा रहा था, एक सड़क दुर्घटना में मारा गया। उनकी मौत की खबर मिलते ही घर में हो रही शादी की खुशियां गमगीन हो गईं। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

Joya (Amroha): गांव में किसान नन्हू सिंह का परिवार रहता है। उनके परिवार में उनकी पत्नी, तीन बेटे और एक बेटी है। सबसे छोटा बेटा रितेश दिहाड़ी करता था। रितेश के बड़े भाई जयविंदर की शादी 29 अप्रैल को है। घर में शादी की तैयारियां हो रही थीं। रितेश गुरुवार को बरखेड़ा राजपूत में अपने मौसेरे भाई के तिलक समारोह में दावत खाने के बाद भाई की शादी के लिए कार्ड बांटने में व्यस्त था।

जैसे ही उसकी बाइक श्योनाली की जियारत के सामने पहुंची, तेज रफ्तार कार के चालक ने उसे पीछे से टक्कर मार दी। हादसे में रितेश की मौके पर ही मौत हो गई। आरोपी चालक कार छोड़कर फरार हो गया। हादसे में रितेश का बायां हाथ क्षतिग्रस्त हो गया। कुछ ही देर में लोगों की भीड़ जमा हो गई।

UP Today News: पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की और लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने कार को हिरासत में लिया है। सीओ सिटी विजय कुमार राणा ने बताया कि परिजनों की शिकायत के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। गाड़ीजब्त कर ली गई है। आरोपी चालक की तलाश की जा रही है।

UP Today News Amroha: जिले में कोरोना पॉजिटिव तीन और लोग 

UP Today News Amroha: जिले में कोरोना का संक्रमण धीरे-धीरे बढ़ रहा है। इसके बाद भी लोग लापरवाही बरत रहे हैं। गुरुवार को तीन और लोग संक्रमित पाए गए। मार्च से अब तक मिले मरीजों की संख्या 48 हो गई है। फिलहाल 24 मरीजों का इलाज चल रहा है।

Amroha: सीएमओ डॉ. राजीव सिंघल ने बताया कि गुरुवार को जिला अस्पताल, अमरोहा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, मंडी धनौरा, गजरौला, हसनपुर, जोया, रहरा, डीसीएच में 375 लोगों की कोरोना जांच हुई। इसमें 222 ने आरटीपीसीआर और 153 ने एंटीजन टेस्ट कराए हैं। इस दौरान तीन मरीजों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है। सभी मरीजों में खांसी, बुखार, सर्दी के लक्षण थे। डॉक्टरों की सलाह के बाद टेस्ट किया गया।

फिलहाल तीनों मरीजों के संपर्क में आए परिजनों के सैंपल लिए जा रहे हैं। मार्च से अब तक मिले कोरोना मरीजों की संख्या 48 हो गई है। जबकि 24 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में 24 सक्रिय कार्यरत हैं। जिले में 18 कंटेनमेंट जोन भी बनाए गए हैं। किसी मरीज को अस्पताल में भर्ती करने की आवश्यकता नहीं है।

UP Today News Amroha: श्रीमद्भागवत के पूर्व मंगल कलश यात्रा निकाली गई

UP Today News Amroha: बिजनौर रोड स्थित बैंक्वेट हॉल में श्रीमद्भागवत ज्ञान यज्ञ सप्ताह की शुरुआत मंगल कलश यात्रा के साथ हुई। महिलाओं ने पीले वस्त्र पहनकर सिर पर कलश धारण कर कलश यात्रा निकाली। इसके बाद कहानी शुरू हुई। गुरुवार को कलश यात्रा के साथ श्रीमद्भागवत कथा की शुरुआत हुई।

Amroha: जिसमें महिला श्रद्धालुओं ने पीले वस्त्र पहनकर यात्रा निकाली। कार में साध्वी प्रेरणा ज्योति बैठी थीं। मंगल कलश यात्रा मोहल्ला कोट स्थित खंडेलवाल मंदिर से शुरू होकर कोट, बजरिया, मोहल्ला बटवाल, दिल्ली दरवाजा, अतरसी चौराहा, आवास विकास कॉलोनी और नकठे खां मस्जिद होते हुए कथा स्थल मधुरम बैंक्वेट हॉल में संपन्न हुई। 

कथा का शुभारंभ पूर्व पालिका अध्यक्ष शशि जैन ने फीता काटकर किया। कथा स्थल को व्यास साध्वी प्रेरणा ज्योति ने कलश के पूर्ण जल से शुद्ध किया। वैदिक मंत्रोच्चारण और विधि-विधान से व्यास पीठ का पूजन आयोजित किया गया। सुरक्षा को नजर में रखते हुए वहां पर पुलिस भी तैनात रही।

 कलश यात्रा में प्रियंका खंडेलवाल, सुनीता खंडेलवाल, सारिका अग्रवाल, मघु खंडेलवाल, समीर खंडेलवाल, शिवानी खंडेलवाल, कुमकुम, कान्ता सैनी, दीपाली सैनी, ज्योति सैनी, डॉ संयुक्ता चौहान, अलका गर्ग, राजदुलारी, संगीता वर्मा, सुधा चौधरी आदि मौजूद रहे।

सम्वन्धित खबरें यहां पढ़े – 

Related Post

Related Post