uptak

UP Today News मुरादाबाद: यौन शोषण से परेशान छात्रा ने जहर खाकर दी अपनी जान, बाथरूम का वीडियो वायरल, दरोगा सस्पेंड

UP Today News

UP Today News Moradabad:  अपराध के प्रति मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जीरो टॉलरेंस की नीति के बाद भी पुलिस मनमानी कर रही है। पुलिस कार्रवाई करने में विफल रही तो कुंदरकी में यौन शोषण का शिकार हुई छात्रा ने जहरीला पदार्थ पीकर आत्महत्या कर ली।

मोहल्ले के दबंग युवक और उसके दो भाइयों ने उसका नहाते हुए वीडियो बनाकर वायरल कर दिया था। होली के दिन वह उसके घर गया और बंदूक की नोक पर उसके साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की। परिजनों की तहरीर देने के बाद भी थाना पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

डीआईजी के आदेश का पालन नहीं किया गया

पुलिस ने डीआईजी शलभ माथुर के आदेश का भी प्याला पी लिया। मजबूर होकर छात्रा ने जहरीला पदार्थ पीकर आत्महत्या कर ली। उसने दो पेज का सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें उसने आरोपी के अलावा पुलिस प्रताड़ना की कहानी बयां की है।

एसएसपी हेमराज मीणा ने उप निरीक्षक सचिन मलिक को निलंबित कर दिया है। 8 मार्च को कुंदरकी गांव की एक छात्रा की ओर से उसने थाने में शिकायत दर्ज कराई, जिसमें पड़ोस के ही विकेश सिंह, लिपिक इमरत और हरि ज्ञान पर दुष्कर्म की कोशिश करने और उसका अश्लील वीडियो वायरल करने का आरोप लगाया। 

वीडियो नहाते समय बनाया गया था

छात्रा ने बताया कि तीनों ने उसका अपनी छत से नहाने का वीडियो बनाया था, जो वायरल हो गया। होली के दिन विकेश उसके घर गया और बंदूक की नोंक पर दुष्कर्म का प्रयास किया। आरोप है कि पुलिस ने छात्रा व उसके परिजनों से पूछताछ करने के बाद वापस कर दिया। 

दरोगा ने पीड़िता का बयान भी दर्ज नहीं किया

यौन शोषण के आरोप के बाद भी इंस्पेक्टर सचिन मलिक ने गंभीरता नहीं दिखाई। वह जमीन विवाद की जानकारी देकर अधिकारियों को गुमराह करता रहा। यहां तक ​​कि उसने बयान दर्ज कराने के लिए छात्रा से संपर्क भी नहीं किया। इसलिए दबंग छात्र के साथ मिलकर परिजनों पर दबाव बनाने लगे।

एसएसपी हेमराज मीणा ने बताया कि दरोगा को सस्पेंड कर दिया गया है। पीड़िता द्वारा लगाए गए आरोपों की गंभीरता से जांच की जा रही है। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

सम्वन्धित खबरें यहां पढ़े – 

Related Post

Related Post